Wednesday, April 8, 2009

prernaa

फिर आ रही हूँ नए यात्रा वृतांत के साथ शायद कल ही . आपके अनुभवों की ज़रुरत होओगी. आप सब ही मेरी प्रेरेना है .

1 comment:

Harkirat Haqeer said...

प्रीति जी,
शायद आप ने अभी अभी पोस्ट डाली है....सबसे पहले आपका बहुत- बहुत शुक्रिया सांत्वना भरा हाथ बढाने के लिए....सच मुच मैं तो बहुत ही आहात हुई थी इस चोरी और उस पर सीनाजोरी से....पर आप सब के साथ ने मुझे बहुत राहत दी......!!

आप की नयी पोस्ट का इन्तजार है.....!!